Font Sign In / Register
शब्दकोश Dictionary
अंग्रेज़ी-हिन्दी शब्द अनुवाद
 
www.swargvibha.tk
 
Opinion Poll
No-ball incident has made our players more aggressive, says M S Dhoni. Do you agree?
Yes
No
Can't Say
Please answer this simple math question 6 + 1 = 7
   
 
Social Media
 
 
 
 
 
Email
‘कन्या भ्रूण-हत्या’ समाज के लिए अभिशाप - दीदीमाँ साध्वी ऋतंभरा
6/12/2011 6:57:30 PM
Post Your Review

- विशेष प्रतिनिधि द्वारा

सामाजिक संस्था सहयोग भारती ने शालीमार बागदिल्ली में कन्या भ्रूण-हत्या रोकथामका जन-जागरण कार्यक्रम स्थानीय नगर निगम प्रतिभा विद्यालयबी.बी. ब्लाकमें आयोजित किया। सहयोग भारती के इस कार्यक्रम का शुभारंभ महापौर प्रो. रजनी अब्बी ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता ब्रह्माकुमारी पूनम दीदी ने की। स्वागताध्यक्ष नरेश मित्तल ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। समाजसेवी राजीव अग्रवाल व समाजसेवी ओम प्रकाश मित्तल ने प्रो. रजनी अब्बी (महापौरदिल्ली नगर निगम) के साथ दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। अध्यक्ष राज कुमार जैन ने संस्था के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला और बताया कि यह गैर सरकारी संस्था समाज के असहाय परिवारों की सहायता के लिए व समाज में सांस्कृतिक परंपरा व संस्कारों के लिए जन जागरण के कार्यक्रम करती हैं। संस्था के अन्य उल्लेखनीय कार्यक्रमों में बेसहारा विधवायों की बेटियों की शादी करवाने की योजना भी है। इसके अतिरिक्त समाज के कार्यों में संलग्न जरूरतमंद लोगों की भी सहायता की जाएगी। समय-समय पर संस्था समाज के हित में नई-नई योजनाएं भी बनाएगी।

महामंत्री हरीश चन्द्र सन्सी ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए बताया कि पूरे देश में केवल  केरल में स्त्री पुरुष अनुपात ठीक है। शेष सभी राज्यों में यह अनुपात विषम होता जा रहाbhrun.jpg है। समृद्ध राज्यों में तो स्थिति और भी विषम है। यदि इस पर शीघ्र नियंत्रण न किया गया तो अनेक सामाजिक बुराइयों का हमें सामना करना होगा।

पूज्य दीदीमाँ साध्वी ऋतंभरा जी के पावन सान्निध्य में आयोजित इस कार्यक्रम में सुरेन्द्र वधवा (राष्ट्रीय महासचिवभारत विकास परिषद) ने इस विषय पर प्रकाश डाला और कार्यक्रम के उद्देश्यों की सराहना करते हुए इसकी सफलता की कामना की।

श्रीमती रजनी अब्बी (महापौर) ने भ्रूण-हत्या को बड़ी ही घृणित सामाजिक बुराई बताया और चिंता व्यक्त की कि अगर यही स्थिति चलती रही तो एक समय आएगा किRajniAbi.jpgलिंगानुपात की हालत बड़ी ही विषम हो जाएगी। प्रो. अब्बी ने कहा कि समय आ गया है कि इस ओर ध्यान दिया जाए अन्यथा समाज में अनेक बुराइयां सामने आएँगी। ऐसे समय में सहयोग भारती जैसी संस्था इस दिशा में सही कार्य कर रही है सभी को चाहिए कि अपने अपने स्तर पर इस समस्या से निदान पाने के लिए कार्य करें

डॉ. साधना गुप्ता (महाराजा अग्रसेन अस्पताल) ने भ्रूण-हत्या से होने वाले शारीरिक दुष्परिणामों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। डॉ. साधना ने बताया कि DrSadhanaGupta.jpgकिस प्रकार लोग चोरी छिपे भ्रूण-हत्या को अंजाम देते हैं परंतु बाद में उन्हें उसकी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है। ऐसी महिलायों को अनेक प्रकार कि व्याधियों या शारीरिक कष्ट होने के अलावा मातृत्व तक से भी विहीन रहना पड़ सकता है।

समाजसेवी श्रीमती पुष्पा बैंगाणी (पूर्व अध्यक्ष अ. भा. जैन तेरापंथ महिला मंडल) ने भ्रूण-हत्या के सामाजिक दुष्परिणामों के बारे में विस्तारपूर्वक बताया।

ब्रह्मचारिणी साध्वी श्रीशिरोमणि जी (परम शक्तिपीठ वृंदावन) ने शक्तिपीठ की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी दी और बताया कि किस प्रकार वहां कन्यायों की सम्पूर्ण देखभाल की जाती है।

कार्यक्रम की संयोजिका मंजुला कानोडिया ने इस अवसर पर अजन्मी बेटी का अपनी मां के नाम पत्र बड़े ही मार्मिक ढंग से पढ़ कर सुनाया

जैन तेरापंथ कन्या मंडल द्वारा इस अवसर पर कन्या भ्रूण हत्या रोकथाम” नाटिका प्रस्तुत की गई जिसकी सर्वत्र सराहना की गई।

पूज्य दीदीमाँ साध्वी ऋतंभरा जी ने हालत पर गहरी चिंता प्रकट की। दीदीमाँ ने कहा कि  यह वह देश है जहाँ किसी को भी दुःख देना पाप समझा जाता है। रात को फल फूलDidiMaa-inside.jpg इसलिए नहीं तोडते की पेड़ पौधे सोये हुए हैं। ऐसे देश में मां ही अपनी बच्ची को मारेगी तो उसमें और सर्पिणी में क्या अंतर रह जाएगा। दीदीमाँ ने कहा कि भारतीय मां तो शेरनी की तरह अपने बच्चों की रक्षा करती है।

कार्यक्रम की अध्यक्ष ब्रह्माकुमारी पूनम दीदी ने इस समस्या के सभी पहलूयों पर रोशनी डाली और आशा प्रकट की कि सहयोग भारती के इस कार्यक्रम से लोगों में जनचेतना अवश्य जागेगी और एक ऐसा दिन आएगा जब कन्या जन्म पर लोग दुःख नहीं मनाएंगे।

जय भगवान अग्रवाल (विधायक रोहिणी तथा राष्ट्रीय उपाध्यक्षपरम शक्तिपीठ वृंदावन) ने परम शक्तिपीठ के बारे में बताया और उपस्थित जन समुदाय से परम शक्तिपीठ के कार्यों को देखने के लिए वृंदावन आने का अनुरोध किया।

सभा में पधारे मुख्य व विशिष्ट अतिथियों में कुछ प्रमुख नाम हैं सत्य नारायण बंधु’ (चेयरमेनभारत लोक शिक्षा परिषद)रविंद्र बंसल (विधायकशालीमार बाग-पीतमपुरा)हरबंस लाल उप्पल (निगम पार्षदशालीमार बाग)राज कुमार पोद्दार (निगम पार्षदपीतमपुरा)। इस कार्यक्रम में अनेक सामाजिक संस्थायों के प्रतिनिधियों ने भी भाग लिया। भाग लेने वाले कुछ प्रमुख समाजसेवी थे – सी.एल. जैन (महामंत्रीमुनि माया राम हस्पतालपीतमपुरा)स. अवतार सिंह चंडोक (महामंत्रीसेंटर फार सोशल जस्टिस)जी. डी. वर्मा (कोषाध्यक्ष, शिवकृपा सत्संग मंडलशालीमार बाग)नंद किशोर गुप्ता (अध्यक्षवरिष्ठ नागरिक मंचपीतमपुरा)बृज मोहन मित्तल (महामंत्रीसेवा भारतीपीतमपुरा)रतन लाल गुप्ता (अध्यक्षआर.डब्ल्यू.ए. शालामार गांव)कल्पना गुप्ता (अध्यक्षमहिला समिति अग्रोहा विकास ट्रस्ट)स्नेह बंसल (अध्यक्षनिहारिका क्लब), सुमित प्रकश (अध्यक्षआर.डब्ल्यू.ए. यू एंड वी. शालीमार बाग)

राजीव गुप्ता ने पूज्य दीदीमाँ ऋतंभरा जीब्रह्मचारिणी साध्वी श्री शिरोमणि जीमहापौर प्रो. रजनी अब्बी और आए हुए सभी अतिथियों का धन्यवाद किया।

कार्यक्रम में उपस्थित पदाधिकारियों में सहयोग भारती के मुख्य परामर्शक जय भगवान गोयल व जयनारायण जैनके अतिरिक्त हरीश खन्नाडॉ. कमलेश कानोडियाप्रभुदयाल पालमनीष गोयलरोशन लाल सहगलसुनील जैनपं. गोवर्धन चतुर्वेदीडा. ईश्वर दयाल सैनीविनीत वधवाप्रकाश चंदेलमहेंद्र काबरापवन गर्गपरमेश्वर संघीयश सक्सेनारेणु जाजूविजेंद्र यादवसीमा गुप्तासपना अरोड़ानिकिता अग्रवाल के नाम उल्लेखनीय हैं।


SB_1206_1393.jpg

SB_1206_1398.jpg

SB_1206_1401.jpg

SB_1206_1416.jpg

SB_1206_1414.jpg

SB_1206_1426.jpg

SB_1206_1421.jpg

SB_1206_1429.jpg

SB_1206_1437.jpg

SB_1206_1452.jpg

SB_1206_1471.jpg

SB_1206_1503.jpg

SB_1206_1507.jpg

SB_1206_1510.jpg

SB_1206_1520.jpg

SB_1206_1515.jpg

SB_1206_1527.jpg

SB_1206_1543.jpg

SB_1206_1548.jpg

SB_1206_1554.jpg

SB_1206_1556.jpg

SB_1206_1560.jpg

SB_1206_1578.jpg

SB_1206_1605.jpg

SB_1206_1616.jpg

SB_1206_1619.jpg

SB_1206_1627.jpg

SB_1206_1629.jpg

SB_1206_1631.jpg

SB_1206_1648.jpg

SB_1206_1650.jpg



(छायांकन  राज स्टूडियो, शालीमार बाग, दिल्ली)

*****

Shubham-OK-529X180.JPG


,



 

चन्द्र प्रकाश said :
सहयोग भारती ने एक बहुत ही अच्छा कार्य किया है. समाज में, निश्चित रूप से इसका अच्छा सन्देश जायेगा. -चन्द्र प्रकाश
6/17/2011 10:49:49 PM
mohit said :
reallyits a great worlk
6/28/2011 2:16:29 PM
S. V. Singh said :
समय रहते इस समस्या पर काबू पाया जाना बहुत ही आवश्यक है. अन्यथा आने वाले समय में यह समस्या विकराल रूप ले सकती है. इस दिशा में सहयोग भारती का यह कदम प्रशंसनीय है. दीदी मां को मेरा भी प्रणाम.
6/19/2011 6:46:57 PM

Post Your Review

Your Name  
Your Email  
Your Comment:
Type in Hindi (Press Ctrl+g to toggle between English and Hindi)
 
      
 
 
Go To Top
 
Login

     
 
                 

             

New User! Register Here.
Forgot Password?
 
 
 
 
Online Reference
Dictionary, Encyclopedia & more
Word:
by:
 
Traffic Rank
 
 
About Us  |   Contact Us   |   Term & Conditions   |   Disclaimer  |   Privacy Policy  |   copyright © 2010... Powered by : InceptLogic