Font Sign In / Register
शब्दकोश Dictionary
अंग्रेज़ी-हिन्दी शब्द अनुवाद
 
www.swargvibha.tk
 
Opinion Poll
No-ball incident has made our players more aggressive, says M S Dhoni. Do you agree?
Yes
No
Can't Say
Please answer this simple math question 6 + 1 = 7
   
 
Social Media
 
 
 
 
 
Email
विश्व हिंदू परिषद के मार्गदर्शक अशोक सिंघल ने किया ‘जयतु भारतम्’ का लोकार्पण
7/8/2013 6:44:17 AM
Post Your Review

- विशेष प्रतिनिधि

दिल्ली के कांस्टीट्यूशन क्लब में विश्व हिंदू परिषद के मार्गदर्शक अशोक सिंघल द्वारा तिलकराज कटारिया की पुस्तक जयतु भारतम् का लोकापर्ण किया गया । कार्यक्रम की अध्यक्षता विख्यात इतिहासविद व पत्रकार डा. देवेंद्र स्वरुप अग्रवाल ने की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री डा मुरली मनोहर जोशी थे। इस कार्यक्रम में डा बजरंग लाल गुप्ता (उत्तर क्षेत्र संघचालक, रा.स्व.सं.)श्याम जाजू (राष्ट्रीय मंत्री, भाजपा), डा. विजय कुमार मल्होत्रा (नेता विपक्ष, दिल्ली)विजय गोयल (प्रदेश अध्यक्ष भाजपा, दिल्ली)मांगे राम गर्ग (पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा दिल्ली), विजेंद्र गुप्ता (पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा, दिल्ली), नंद किशोर गर्ग (पूर्व विधायक), रविंद्र नाथ बंसल (विधायक), जय भगवान अग्रवाल (विधायक), महेंद्र नागपाल (नेता सदन, उत्तरी निगम), राम किशन सिंघल (चेयरमैन, स्थायी समिति, उत्तरी निगम), हरबंस लाल उप्पल (जिलाअध्यक्ष, भाजपा, जिला केशव पुरम)भरत अरोड़ाराजेश चोपड़ा, विश्व हिंदी साहित्य परिषद् के पदाधिकारियों में ममता गोयनका (महासचिव), विनोद कुमार अग्रवाल (कोषाध्यक्ष), नीलांजन बैनर्जी (सचिव) भी उपस्थित थे।

 जयतु भारतम-0002.jpg

आशीष कंधवे, डा. बजरंग लाल गुप्त, डा. मुरली मनोहर जोशीश्रीमती कटारिया, तिलकराज कटारिया, अशोक सिंहल, डा. देवेंद्र स्वरूप अग्रवालडा. विजय कुमार मलहोत्रा,विजेंद्र गुप्ता, मांगे राम गर्ग

कार्यक्रम का आरंभ माउंट आबू पब्लिक स्कूल सैक्टर-रोहिणी के बच्चों द्वारा वंदे मातरम् के गायन से किया गया। मंच संचालन विश्व हिन्दी साहित्य परिषद के अध्यक्ष आशीष कंधवे द्वारा किया गया।

भारतीय जनसंघ के समय से सक्रिय कार्यकर्ता रहे भाजपा नेता तिलकराज कटारिया ने भारत के पुरातन इतिहास को एकत्र कर एक पुस्तक का रूप दिया। तिलकराज कटारिया पेशे से डाक्टर हैं और आजकल दिल्ली प्रदेश भाजपा में अनुशासन समिति के अध्यक्ष है। कटारिया के अनुसार शीघ्र ही इस पुस्तक का अंग्रेजी संस्करण भी प्रकाशित किया जायेगा जिससे अधिक से अधिक लोगों तक इस पुस्तक को पहुंचाया जा सके। उन्होंने बताया कि इस पुस्तक को लिखने में उन्हें काफी समय लगा। इस कार्य के लिए उन्हें उनके परिवार के सदस्यों ने भी भरपूर योगदान दिया।

जयतु भारतम् का लोकार्पण-ok.jpg

तिलकराज कटारिया, डा. मुरली मनोहर जोशीअशोक सिंहल, डा. विजय कुमार मलहोत्रा,डा. बजरंग लाल गुप्त, डा. देवेंद्र स्वरूप अग्रवालमांगे राम गर्ग, विजेंद्र गुप्ता, आशीष कंधवे, श्रीमती कटारिया, हरबंस लाल उप्पल, रविंद्र बंसल, नंद किशोर गर्ग

उन्होंने बताया कि उनकी इस पुस्तक में युवा पीढ़ी के लिए बहुत से ऐसी बाते हैं जिनके बारे में युवा पीढ़ी अनभिज्ञ है। नई पीढ़ी के साथ-साथ वर्तमान पीढ़ी को भी भारतीय संस्कृति की विरासत से लगातार परिचित कराने की आवश्यकता है। यह पुस्तक स्वामी विवेकानंद की 150वीं जयंती के अवसर पर विशिष्ट रूप से प्रकाशित की गयी है। हमारा भारत एक ऐसा देश है जिसमें अनेक देवी देवताओं ने जन्म लिया। जो बात आज नासा या अन्य स्थानों के वैज्ञानिक करते हैं वे बातें आज से हजारों साल पहले ही हमारे ग्रंथों में लिखी जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि हमारी यह कोशिश होगी कि हमारी युवा पीढ़ी ज्यादा से ज्यादा इस पुस्तक का लाभ उठा सके।

उन्होंने कहा जयतु भारतम’ मात्र एक पुस्तक ही नही है,  यह हमारी सांस्कृतिक विरासत एवं स्वर्णिम अतीत की स्मृति है हमारे वेद -ज्ञान व विज्ञान की जागृत कृति हैभारतीयता की परिणिति है मञ्जूषा है भारतीय संस्कृति की। यह  वर्णन है भारत के श्रेष्ट ज्ञान-विज्ञान का भारत माँ के सम्मान काभावी पीढ़ी के निर्माण का यह दिशा है भारतीय जीवन शैली की  आराधना हैसाधना हैप्रेरणा हैसंकल्प हैविकल्प हैअभिलाषा है और जिज्ञासा का समाधान है विश्व कुटुम्बकम का भान हैविश्व शांति का पैगाम हैभारत की श्रेष्ठतम वैज्ञानिक उपलब्धियों का अभिमान है सत्य सिद्धांतों का साक्षात्कार हैविश्व शांति का आधार है और वास्तविक जीवन का यह उपहार है आओ इस का अध्धयन करेंमनन करेंचितन करें, प्रेरणा जगाएँभारत को फिर से विश्व वन्दनीय बनायेअपने अतीत को पढ़ कर अपना इतिहास उलट करअपना भवितव्य समझ कर,  हम करे राष्ट्र का चिंतनहम करे राष्ट्र आराधनहम करे राष्ट्र आराधन ...यही प्रार्थना है

कार्यक्रम के कुछ और चित्र

जयतु भारतम-0003-.jpg 


जयतु भारतम-0003.jpg


जयतु भारतम-0008.jpg


जयतु भारतम-0004.jpg


जयतु भारतम-0005.jpg

****

Shubham-OK-529X180.JPG


HDFC-Ad-400X290.JPG 

Ashok Singhal realeased Tilalak Raj Katarias book Jaytu-Bhartam


,



 

राजीव रंजन said :
सफल और भव्य कार्यक्रम के लिए कोटि कोटि बधाई. - राजीव रंजन
7/19/2013 2:11:50 PM
Hari Shankar said :
तिलक जी को बहुत बहुत बधाई ....
7/14/2013 10:31:48 PM
Vikram Pradhan said :
उम्मीद है कि इस पुस्तक से हमारी नौजवान पीढ़ी को उचित मार्गदर्शन मिलेगा और हमारी संस्कृति के बारे में उन्हें वांछित जानकारी भी मिलेगी. - विक्रम प्रधान
7/15/2013 5:37:17 AM
R K Grover said :
पुस्तक विमोचन कार्यक्रम की सफलता के लिए हार्दिक बधाई. - आर. के. ग्रोवर
7/15/2013 5:52:29 AM

Post Your Review

Your Name  
Your Email  
Your Comment:
Type in Hindi (Press Ctrl+g to toggle between English and Hindi)
 
      
 
 
Go To Top
 
Login

     
 
                 

             

New User! Register Here.
Forgot Password?
 
 
 
 
Online Reference
Dictionary, Encyclopedia & more
Word:
by:
 
Traffic Rank
 
 
About Us  |   Contact Us   |   Term & Conditions   |   Disclaimer  |   Privacy Policy  |   copyright © 2010... Powered by : InceptLogic